Latest :
झुग्गी में लगी थी आग जलकर हुई थी खाक, कल ही की है बात, फरिश्ता बनकर आई पुलिस 1 दिन में तैयार करा दी नई झुग्गी साथ ही उपलब्ध करवाया 1 महीने का राशनभारतीय सेना के शिक्षकों ने अटल बिहारी बाजपेयी राजकीय मेडिकल कॉलेज में वहां हो रही सभी तैयारियों का किया निरिक्षणहमें एक बेहतर प्रबंधन देकर कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई को जीतना है : संजीव कौशलसस्ते दामों पर इंजेक्शन खरीद कर 35 हजार रुपए प्रति इंजेक्शन के हिसाब से बेचने की फिराक में था आरोपी, पुलिस ने किया गिरफ्तारआरोपी के कब्जे से रेम्डेजिविर के दो इंजेक्शन बरामदऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करने वाले एसी मैकेनिक को पुलिस ने रंगे हाथों दबोचाकैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने प्रदेश में तेजी से बढ़ी कोरोना महामारी के चलते सप्लाई की जा रही ऑक्सीजन का लिया ब्यौराउपायुक्त यशपाल ने जिला फरीदाबाद में कोविड कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन नंबर व पांच नए संपर्क नंबर किए शुरूऑक्सीजन रिफिलिंग प्रबंधन प्रणाली’ से मिलेगी सही जानकारीकॉविड वैक्सीन रजिस्ट्रेशन के नाम पर हो रहे साइबर फ्रॉड से बचें : ओ पी सिंह
Faridabad

बड़ी धूमधाम के साथ मनाई गई श्री लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम में भाष्यकार रामानुजाचार्य जयंती

April 18, 2021 05:22 PM

Star Khabre, Faridabad; 18th April : सूरज कुंड रोड स्थित श्री लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम में भाष्यकार रामानुजाचार्य जयंती बड़ी धूमधाम के साथ मनाई गई। इस अवसर पर आश्रम के अधिष्ठाता अनंतश्री विभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगद्गुरू रामानुजाचार्य स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने रामानुज स्वामी के दिव्य विग्रह का अभिषेक एवं पूजन किया। उन्होंने भक्तों को बताया कि रामानुज स्वामी ने भौतिकवाद के कारण धर्म से विमुख हो रहे लोगों को धर्म की राह दिखाई और उन्हें भगवान के श्री चरणों में लगाया। रामानुज स्वामी जी ने 72 वाक्य देकर समाज को भटकने से बचाया।

उन्होंने भगवान से वचन लिया कि जो भी व्यक्ति उनके बताए मार्ग को अपनाएंगे, उनका कल्याण निश्चित होगा। रामानुज स्वामी जी की परंपरा में आने के बाद व्यक्ति को अपनी मूल चेतना का ज्ञान हो जाता है और वह भगवान की शरण में सहज भाव से लग जाता है। ऐसे ही रामानुज परंपरा में स्वामी सुदर्शनाचार्य जी महाराज को जगद्गुरु की पदवी प्राप्त हुई जिन्होंने यहां फरीदाबाद में श्री सिद्धदाता आश्रम के नाम से एक दिव्य स्थान का प्राकट्य किया। उनके वैकुंठवासी होने के बाद जगदगुरु स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज उस कार्य को निरंतर प्रगति की ओर ले जा रहे हैं। आज श्री रामानुज जयंती के अवसर पर सभी भक्तों ने ढोल नगाड़ों के साथ संप्रदाय के प्रतीकों सहित झांकी निकाली। स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने सभी भक्तों को आशीर्वाद एवं प्रसाद प्रदान किया। इस दौरान कोविड-19 नियमावली का पूरी तरह से पालन किया गया। सभी भक्तों को तापमान जांच करने, सैनिटाइजेशन और मास्क लगे होने के बाद ही अंदर प्रवेश दिया गया। इसके अलावा सभी को शारीरिक दूरी के साथ रहने के लिए भी समझाया गया।

 
Have something to say? Post your comment
More Faridabad

झुग्गी में लगी थी आग जलकर हुई थी खाक, कल ही की है बात, फरिश्ता बनकर आई पुलिस 1 दिन में तैयार करा दी नई झुग्गी साथ ही उपलब्ध करवाया 1 महीने का राशन

भारतीय सेना के शिक्षकों ने अटल बिहारी बाजपेयी राजकीय मेडिकल कॉलेज में वहां हो रही सभी तैयारियों का किया निरिक्षण

हमें एक बेहतर प्रबंधन देकर कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई को जीतना है : संजीव कौशल

सस्ते दामों पर इंजेक्शन खरीद कर 35 हजार रुपए प्रति इंजेक्शन के हिसाब से बेचने की फिराक में था आरोपी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

आरोपी के कब्जे से रेम्डेजिविर के दो इंजेक्शन बरामद

ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करने वाले एसी मैकेनिक को पुलिस ने रंगे हाथों दबोचा

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने प्रदेश में तेजी से बढ़ी कोरोना महामारी के चलते सप्लाई की जा रही ऑक्सीजन का लिया ब्यौरा

कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण फैलाव को रोकने के लिए साप्ताहिक लॉकडाउन

उपायुक्त यशपाल ने जिला फरीदाबाद में कोविड कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन नंबर व पांच नए संपर्क नंबर किए शुरू

ऑक्सीजन रिफिलिंग प्रबंधन प्रणाली’ से मिलेगी सही जानकारी

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech