Latest :
“सेवा दिवस” के रूप में मनाया गया भाजपा ज़िलाध्यक्ष राजकुमार वोहरा का जन्म दिवसबच्चों का शिक्षित और संस्कारवान होना आवश्यक : राजेश भाटिया800 किलोग्राम नशीले एवं मादक पदार्थों को किया नष्टआईएमए फरीदाबाद ने कोरोना से जान गंवाने वाले डाक्टरों को शहीद दिवस पर दी श्रद्धांजलिमोदी के मन की बात बन गई है एक सामाजिक और आध्यात्मिक यात्रा : वोहराहरियाणा के नकारे मुख्यमंत्री के कारण विधायक नीरज शर्मा कफन का कपड़ा पहनने को मजबूर : कृष्ण अत्री 44 भक्तों का मोतियाबिंद का निशुल्क ऑपरेशन हुआ संपन्नमहामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू करेंगी 37वे अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट्स मेले का उद्घाटन : डीसी विक्रम सिंहअवैध कूड़ाघर को सेल्फी पॉइंट बनाने पर सैनिक कालोनी वासियों ने किया राजीव जेटली का धन्यवादबन्नूवाल वैलफेयर एसोसिएशन ने किया राजीव जेटली का स्वागत
Faridabad

नारायण गौशाला में धूमधाम के साथ मनाई गई गोपाष्टमी

November 21, 2023 02:49 PM

Star Khabre, Faridabad; 21st November : गावो विश्वस्य मातरः एक ऐसा मंत्र है जिसको मान लेने से जीवन में आनंद मिल सकता है। इसका अर्थ है कि गौ विश्व की माँ है। यानि हम सब की माँ हैं। यह बात श्री नारायण गौशाला में गोपाष्टमी पर्व पर जगद्गुरु स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य महाराज ने भक्तों के बीच कही। उन्होंने यहां विधि विधान से पूजा, अर्चना, यज्ञ आदि किया और भक्तों को आशीर्वाद एवं प्रसाद भी प्रदान किया। पुरुषोत्तमाचार्य महाराज ने कहा कि गौधन की रक्षा, सुरक्षा का सभी को ध्यान रखना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि गौ में संरक्षण में ही मानव मात्र का संरक्षण है। गौ हमारी न केवल आस्था का केंद्र है बल्कि हमारी संस्कृति की पहचान भी है। उन्होंने कहा कि गाय में 33 कोटि देवी देवताओं का वास माना जाता है, जिसका पूजन करने से सभी देवताओं का पूजन हो जाता है। स्वामीजी ने कहा कि आप सभी लोग हफ्ते में, महीने में कोई दिन ऐसा अवश्य निकालें कि गौशाला में आकर गाय का चार प्रदान करें, उनकी सेवा करें। जिनको गौ सेवा में आनंद प्राप्त हो जाएगा, समझो उसको प्रभु की कृपा प्राप्त हो जाएगी। 

इस अवसर पर उन्होंने शिष्यों सहित गौवंश को हरा चारा, गुड़ चना आदि खिलाया और लोकल्याण के लिए प्रार्थना की। इस अवसर पर विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्य अध्यक्ष आलोक कुमार भी सहपत्नी पधारे और गौ सेवा का आनंद लिया। गौरतलब है कि नारायण गौशाला में करीब 300 गौधन आश्रय पाता है जिनसे प्राप्त गौ गव्य का किसी भी प्रकार से कमर्शियल प्रयोग नहीं होता है। उसका इस्तेमाल आश्रम में ही प्रसाद आदि में प्रयोग होता है। 

 

 
Have something to say? Post your comment
More Faridabad

“सेवा दिवस” के रूप में मनाया गया भाजपा ज़िलाध्यक्ष राजकुमार वोहरा का जन्म दिवस

बच्चों का शिक्षित और संस्कारवान होना आवश्यक : राजेश भाटिया

800 किलोग्राम नशीले एवं मादक पदार्थों को किया नष्ट

आईएमए फरीदाबाद ने कोरोना से जान गंवाने वाले डाक्टरों को शहीद दिवस पर दी श्रद्धांजलि

मोदी के मन की बात बन गई है एक सामाजिक और आध्यात्मिक यात्रा : वोहरा

हरियाणा के नकारे मुख्यमंत्री के कारण विधायक नीरज शर्मा कफन का कपड़ा पहनने को मजबूर : कृष्ण अत्री

44 भक्तों का मोतियाबिंद का निशुल्क ऑपरेशन हुआ संपन्न

महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू करेंगी 37वे अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट्स मेले का उद्घाटन : डीसी विक्रम सिंह

अवैध कूड़ाघर को सेल्फी पॉइंट बनाने पर सैनिक कालोनी वासियों ने किया राजीव जेटली का धन्यवाद

बन्नूवाल वैलफेयर एसोसिएशन ने किया राजीव जेटली का स्वागत

 
 
 
 
 
 
Grievance Redressal Disclaimer Complaint
Star Khabre
Email : editor@starkhabre.com
Email : grostarkhabre@gmail.com
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech