Latest :
लू के दिनों में चार गुना इजाफा, 23 राज्यों पर भीषण गर्मी का कहर; पहाड़ी राज्यों पर भी अब असरहरियाणा की 10 लोकसभा व करनाल विधानसभा सीट पर वोटिंग शुरू, पूर्व सीएम मनोहर लाल ने किया मतदान 2500 जवान, छह पेरामिलिट्री फोर्स.. चुनाव को लेकर हरियाणा तैयार, बूथों पर सुरक्षा चाक-चौबंदफरीदाबाद में एक ही परिवार के छह लोगों ने काटी हाथ की नस, एक की मौत... तीन गंभीर; सामने आई ये वजहचुनाव प्रचार से लौट रहे व्यक्ति की हादसे में मौत, 2 साथी घायल, कार पर अनियंत्रित होकर पलटा कैंटर महिला ने पहले बेटियों को दिया जहर और फिर खुद भी निगला, एक बेटी और मां की हुई मौतडीसीपी कुलदीप सिंह ने प्रहलादपुर इंटरस्टेट नाका को चेक कर शराब की तस्करी रोकने के दिए निर्देश क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने शातिर चोर आरोपी कुलदीप को गिरफ्तार कर सुलझाए चोरी के 7 मामलेबीच सड़क गाड़ी रोककर आतिशबाजी करने तथा आमजन को परेशान करने के मामले में तीन आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्जहरियाणा में आज शाम थम जाएगा चुनावी शोर, अशोक तंवर बोले- 400 पार इस बार, 500 अगली बार
National

MDH, एवरेस्ट मसालों पर बैन के बाद भारत सरकार सख्त, FSSAI ने शुरू की जांच

April 23, 2024 01:35 PM

Star Khabre,National; 23rd April: बिजनेस डेस्कः हांगकांग और सिंगापुर में एमडीएच और एवरेस्ट के मसालों पर बैन लगने के बाद भारत में भी इस पर बहस शुरू हो गई है। इसके चलते भारत के फूड सेफ्टी रेग्युलेटर ‘भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) ने इस मामले में नए सिरे से जांच शुरू की है। एमडीएच और एवरेस्ट के मसालों पर बैन लगने के बाद एफएसएसएआई अब भारत में इन मसालों के नए सैंपल की टेस्टिंग करेगा। इसके लिए एफएसएसएआई कंपनी की अलग-अलग मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट से सैंपल्स को उठा रही है।

 

अन्य मसाला कंपनियों की भी जांच

एफएसएसएआई से जुड़े सरकारी सूत्रों का कहना है कि वह सिर्फ एमडीएच और एवरेस्ट के मसाला सैंपल्स को कलेक्ट नहीं कर रहे हैं। बल्कि कुछ अन्य मसाला ब्रांड्स की यूनिट से भी सैंपल्स को इकट्ठा किया जा रहा है। एफएसएसएआई की ओर से ये भी कहा गया है कि उसकी तरफ से समय-समय पर मसालों और अन्य फूड आइटम्स की जांच की जाती है लेकिन जिस कीटनाशक की मौजूदगी को लेकर एवरेस्ट और एमडीएच के मसालों को बैन किया गया है। वह उसकी जांच में पाए ही नहीं गए थे।

हांगकांग और सिंगापुर ने बैन किए मसाले

हांगकांग और सिंगापुर ने अपने नागरिकों को एमडीएच और एवरेस्ट के कुछ ब्लेंडेड मसालों के इस्तेमाल करने से रोक दिया है। हांगकांग और सिंगापुर के फूड सेफ्टी विभाग का कहना है कि इन कंपनियों कुछ मसाला मिक्स में कीटनाशक एथिलीन ऑक्साइड की मौजूदगी है। आम तौर पर इस कीटनाशक का प्रयोग फफूंद से बचने के लिए किया जाता है जबकि रेग्युलेटर्स ने इसे कैंसर कारक पदार्थों में रखा है। हांगकांग ने एमडीएच के मद्रास करी पाउडर, सांभर मसाला मिक्स पाउडर और करी पाउडर मिक्स्ड मसाला में ये कीटनाशक पाया है। सिंगापुर में एवरेस्ट के फिश करी मसाला पाउडर को बाजार से वापस लेने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही नागरिकों को इसके इस्तेमाल से रोक दिया गया है।

मसाला बोर्ड भी देख रहा हांगकांग-सिंगापुर का बैन

इधर भारतीय मसाला बोर्ड ने भी हांगकांग और सिंगापुर के बैन की समीक्षा करना शुरू कर दिया है। भारतीय मसाला बोर्ड की निदेशक ए. बी. रेमा श्री का कहना है कि हम इस मामले को देख रहे हैं। हम इस पर काम कर रहे हैं। भारत के लिए ये बैन एक बड़ा झटका भी है क्योंकि भारत दुनिया का सबसे बड़ा मसाला उत्पादक, उपभोक्ता और निर्यातक है। वित्त वर्ष 2022-23 में देश ने करीब 32,000 करोड़ रुपए का मसाला निर्यात किया था

News Source: PunjabKesari

 

 

 
Have something to say? Post your comment
More National

लू के दिनों में चार गुना इजाफा, 23 राज्यों पर भीषण गर्मी का कहर; पहाड़ी राज्यों पर भी अब असर

देशभर में आज से पेट्रोल-डीजल की नई कीमतें जारी, जानें क्या है आज का ताजा रेट

सुबह 11 बजे तक हुई 23.66 वोटिंग, अब तक बंगाल में सबसे ज्यादा 32.70 % मतदान

'मैं सार्वजनिक जीवन में रहने योग्य नहीं रहूंगा' ज्यादा बच्चे और घुसपैठिया वाले बयान पर PM मोदी ने दिया जवाब

मणिशंकर के बयान पर आगबबूला हुए पीएम मोदी, बोले- पाकिस्तान की तो परमाणु बम बेचने की आ गई नौबत

'जब तक जीवित हूं, SC-ST-OBC का आरक्षण धर्म के आधार पर नहीं देने दूंगा': पीएम मोदी

476 उम्मीदवार करोड़पति, 20 प्रतिशत के खिलाफ क्रिमिनल केस... जानिए चौथे चरण के प्रत्याशियों का पूरा लेखा-जोखा

नामदार सदियों से कामदार को गाली देते आए हैं, लोगों को गुस्सा नहीं होना चाहिए', PM का राहुल गांधी पर निशाना

भारत में लॉन्च हुई 2025 Aston Martin Vantage, 3.99 करोड़ रुपये है कीमत

छा गईं म्हारी बेटियां... विनेश फोगाट, अंशु मलिक और रितिका ने देश को दिलाया ओलंपिक कोटा

 
 
 
 
 
 
Grievance Redressal Disclaimer Complaint
Star Khabre
Email : editor@starkhabre.com
Email : grostarkhabre@gmail.com
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech