Latest :
क्राइम ब्रांच सेंटर की टीम ने एक अवैध हथियार रखने वाला आरोपी को देसी कट्टा सहित गिरफ्तार किया हैविभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं से हरियाणा राज्य स्तरीय महिला पुरस्कारों के लिए आवेदन आमंत्रित - डीसी जितेंद्र यादवएनीमिया दूर करने के लिए हरी पत्तेदार सब्जियों का करें सेवन :- उपायुक्त जितेंद्र यादवकोविड-19 के संक्रमण से बचाव व मदद के लिए लें हैल्पलाईन की सहायतानिगमायुक्त के निर्देशानुसार 5 दिसम्बर रविवार को मेगा सफाई अभियान चलाया जाएगाअनुसूचित जाति व बी.पी.एल. परिवारो की आर्थित स्थिति सुधारने के लिए बैकयार्ड पोल्ट्री स्कीम के तहत मुफत चुजे दिए गयेंअमरजीत सिंह मान ने मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेले का अवलोकन कर लिया जायजा134 ए के तहत परीक्षा कल, विभाग की तैयारी पूरी: उपायुक्त जितेन्द्र यादवनवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग हरियाणा व हरेड़ा द्वारा राज्य ऊर्जा संरक्षण पुरस्कारों के लिए आवेदन आमंत्रित: सतबीर मानसबको वैक्सीन "मुफ्त वैक्सीन" के अंतर्गत लोगो को ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन लगवाना उद्देश्य
Sports

अगर चाइनीज कंपनी के बिना हुआ आईपीएल तो कहां से आएगा पैसा?

June 23, 2020 11:07 AM

Star Khabre, Sports; 23rd June : भारत और चीन के बीच सीमा विवाद लगातार गहराता जा रहा है। हाल ही गलवान घाटी (Galwan Valley) में जो हुआ उसके बाद से ही देश में चीनी सामान के बहिष्कार (Boycott Chinese Goods) की मांग उठ रही है। भारतीय क्रिकेट और उसकी टी20 लीग आईपीएल (IPL) पर यह दबाव बढ़ रहा है कि वह चीनी कंपनियों से मिलने वाली स्पॉन्सरशिप को रद्द करे। इस दबाव के बाद आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल इस सप्ताह मीटिंग करेगी। इस मीटिंग में टूर्नमेंट से जुड़ी सभी चाइनीज स्पॉन्सरशिप का रिव्यू किया जाएगा।

चाइनीज ब्रैंड्स से बीसीसीआई की करीब 2 हजार करोड़ की डील
बीसीसीआई के लिए चाइनीज कंपनियों का बहिष्कार करना इतना आसान नहीं होगा। इन चीनी कंपनियों से आईपीएल के लिए उसकी ₹1320 करोड़ की डील है। एक अंग्रेजी अखबार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इसमें ऑन-एयर विज्ञापनों को भी जोड़ दें तो विभिन्न चीनी ब्रैंड्स से उसे ₹500 करोड़ की कमाई और होती है। अगर चाइनीज कंपनियों के बहिष्कार का फैसला होता है तो भारतीय क्रिकेट बोर्ड और आईपीएल के ऑफिशल ब्रॉडकास्टर स्टार इंडिया को राजस्व का बड़ा नुकसान होगा। पिछले साल इन्होंने आईपीएल से ₹2000 करोड़ से ज्यादा की कमाई की थी।

चाइनीज ब्रैंड्स से बीसीसीआई की करीब 2 हजार करोड़ की डील
बीसीसीआई के लिए चाइनीज कंपनियों का बहिष्कार करना इतना आसान नहीं होगा। इन चीनी कंपनियों से आईपीएल के लिए उसकी ₹1320 करोड़ की डील है। एक अंग्रेजी अखबार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इसमें ऑन-एयर विज्ञापनों को भी जोड़ दें तो विभिन्न चीनी ब्रैंड्स से उसे ₹500 करोड़ की कमाई और होती है। अगर चाइनीज कंपनियों के बहिष्कार का फैसला होता है तो भारतीय क्रिकेट बोर्ड और आईपीएल के ऑफिशल ब्रॉडकास्टर स्टार इंडिया को राजस्व का बड़ा नुकसान होगा। पिछले साल इन्होंने आईपीएल से ₹2000 करोड़ से ज्यादा की कमाई की थी।

चीनी सामान का बॉयकॉट: भज्जी ने पूछा- सहमत?

वीवो ने 5 साल के लिए IPL से किया है स्पॉन्सरशिप का करार
आईपीएल का मुख्य स्पॉन्सर वीवो (Vivo) है, जो साल 2018 से बीसीसीआई को सालाना 440 करोड़ रुपये दे रहा है। उसने यह डील 5 साल के लिए की थी। उसने टीवी विज्ञापनों और डीलर इंगेजमेंट/ऑफर पर भी दो महीने चलने वाली इस लीग के लिए 150 करोड़ का भारी निवेश किया था।

विराट की अनुष्का संग तस्वीर, लिखा प्यारा सा कैप्शन

अगर यूं रद्द हुआ चाइनीज कंपनियों का करार तो वे कर सकती हैं कोर्ट का रुख
कुछ वित्तीय एक्सपर्ट्स का यह भी मानना है कि अगर बीसीसीआई वीवो की आईपीएल से स्पॉन्सरशिप रद्द कर देता है तो वह अपने नुकसान की भरपाई के लिए कोर्ट में ले जाने का भी दबाव बना सकता है। चाइनीस स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी वीवो अहम पैरंट कंपनी है, जिसके ओप्पो, रियलमी, वनप्लस और श्योमी ब्रैंड्स भी हैं। इन्होंने इस टूर्नमेंट में काफी प्रभावी स्तर पर निवेश किया हुआ है। इसके अलावा ड्रीम11, पेटीएम और स्वीगी जैसी कंपनियां भी चाइनीज निवेश से जुड़ी हुई हैं।

लगातार बेहतर होते जा रहे हैं विराट, यह डराने वाली बात: स्टीव स्मिथ

IPL के अलावा टीम इंडिया से भी जुड़ी है बायजू, जिसमें चीनी कंपनी का पैसा
इसके अलावा टीवी स्पॉन्सर से एक और ब्रैंड जुड़ा हुआ है, वह है बायजू। यह भी चीनी टेक कंपनी टेन्सेंट से जुड़ा है, जिसने बीते साल भारतीय टीम के जर्सी पर स्पॉन्सर के लिए ओप्पो को रिप्लेस किया था। इस डील के मुताबिक यह ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म वाली कंपनी प्रत्येक द्विपक्षीय मैच के लिए 4.61 करोड़ रुपये और आईसीसी टूर्नमेंट में खेले जाने वाले प्रत्येक मैच के लिए 1.56 करोड़ रुपये का भुगतान करती है। इस प्रकार यह सालाना करीब 300 करोड़ का करार है, जो क्रिकेट कैलेंडर पर निर्भर करता है।

 
Have something to say? Post your comment
More Sports

इंग्लैंड जा रही पाकिस्तान की टीम, कब खेले जाएंगे मुकाबले पता नहीं, कोई कार्यक्रम नहीं हुआ जारी

गौतम गंभीर बोले- सचिन की परछाई में खेलता रहा ये खिलाड़ी, लेकिन प्रभाव रहा एक जैसा

आईसीसी ने कहा- मैच फिक्सिंग रोकने के लिए भारत में इसे अपराध घोषित करना जरूरी, कड़ा कानून न होने से पुलिस के हाथ भी बंधे

पीसीबी ने कहा- इस साल एशिया कप होकर रहेगा, आईपीएल के लिए इसे नहीं टाला जा सकता

वर्ल्ड नंबर-19 दिमित्रोव की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद एड्रिया टूर चैरिटी टूर्नामेंट कैंसिल, इसके फाइनल में जोकोविच खेलने वाले थे

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुखिया एहसान मनी नहीं बनना चाहते ICC के बॉस, बताई वजह

एलिस पैरी बोलीं- बड़े संकट के बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया है फीमेल CEO के लिए तैयार

7 साल के बैन के बाद टीम में हुई श्रीसंत की वापसी, सितंबर के बाद खेल सकेंगे रणजी ट्रॉफी

बायर्न म्यूनिख ने लगातार 8वां बुंदेसलिगा खिताब जीता, लीग के इतिहास में सबसे ज्यादा 58 में से 30 बार चैम्पियन बना

39 साल के मोहम्मद हफीज को रमीजा राजा की बातों पर आया गुस्सा, कहा- मेरे बारे में सोचना बंद करो

 
 
 
 
 
 
Grievance Redressal Disclaimer Complaint
Star Khabre
Email : editor@starkhabre.com
Email : grostarkhabre@gmail.com
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech